Bharat Varsh Hamara
Pragya Geet Mala - All Songs

भारत वर्ष हमारा प्यारा
भारत वर्ष हमारा प्यारा, अखिल विश्व से न्यारा।
सब साधन से रहे सम्मुन्नत, भगवन् देश हमारा।।

हों ब्रह्मण विद्वान राष्ट्र में, ब्रह्मतेज व्रतधारी।
महारथी हों शूर धनुर्धर, क्षत्रिय लक्ष्य प्रहारी।।
गौएँ भी अति मधुर दुग्ध की, रहें बहाती धरा।।

महिलायें हों सती सुन्दरी, सद्गुणवती सयानी।
रथारूढ़ भारत वीरों की, करें विजय अगवानी।।
जिनकी गुणगाथा से गुञ्जित, दिग्दिगन्त हो सारा।।

यज्ञ निरत भारत के सुत हों, शूर, सुकृत अवतारी।
सभ्य, सुशिक्षित कर्मशील हों,सौम्य, सरल, सुविचारी।।
जो होंगे इस धन्य राष्ट्र के, भावी सुदृढ़ सहारा।।

आवश्यक जितना हो उतना, रस बादल बरसायें।
अन्नौषध में लगें प्रचुर फल, और स्वयं पक जायें।।
योग हमारा क्षेम हमारा, स्वत: सिद्ध हो सारा।।
मुक्तक :-
भारत वर्ष हमारा सारी, दुनियाँ का सरताज था।
है इतिहास प्रसिद्ध इसी का, श्रेष्ठ राम का काज था॥
आज पुन: अपने भारत पर, जग की आशा टिकी हुई।
क्योंकि यहीं से विश्वशान्ति का,पढ़ा विश्व ने पाठ था॥


Comments

Post your comment
Info
Song Visits: 2383
Song Plays: 2
Song Downloaded : 0
Song
Duration : 8:30