Ved Mata Devmata
Pragya Geet Mala - All Songs

वेदमाता देवमाता विश्वमाता को नमन

वेदमाता, देवमाता, विश्वमाता को नमन्।
आस्था हम खो चुके, अज्ञान से लाचार हैं।
ज्योति पाने को नई, आये तुम्हारे द्वार हैं।।
ज्ञान दो सद्भाव दो, सत्कर्म हा दो आचरण।।

चाहते तो हैं बहुत पर, मनोबल से दीन हैं।
सध नहीं संकल्प पाते, साधना से हीन है।।
प्रेरणा की स्रोत हो तुम, शक्ति की सागर गहन।।

आज पीड़ा ग्रस्त है यह, विश्व सुन्दर आपका।
बन गया मानव स्वयं, कारण पतन सन्ताप का।।
हो तुम्हीं युगशक्ति अम्बे, रोक दो पीड़ा पतन।।

हम तुम्हारे पूत बनकर, साधना में ढल सकें।
और बन युग दूत तेरे, मार्ग पर भी चल सकें।।
शौर्य दो वैराग्य दो माँ, पाप का कर दो दहन।।
मुक्तक :-
मंगल करनी दुर्मति हरनी, गायत्री सुख धाम।
सद्बुद्धि की दाता माता, जपें तिहारो नाम।।


Comments

Post your comment
Onemis
2012-07-06 20:15:33
Fell out of bed feelnig down. This has brightened my day!
Info
Song Visits: 2597
Song Plays: 0
Song Downloaded : 0
Song
Duration : 7:28