Guru Ki Chhaya Men
Pragya Geet Mala - All Songs

गुरु की छाया में
गुरु की छाया में, शरण जो पा गया।
उसके जीवन में, सुमंगल आ गया॥

गुरु कृपा तो, सबसे बड़ा उपहार है।
गुरु है खेवनहार, तो बेड़ा पार है।
प्रेम का पावन, उजाला छा गया॥

वो रचा है, आती-जाती श्वांस में।
वो बसा है, प्राण में विश्वास में।
शान्ति सुख अमृत, स्वयं बरसा गया॥

हमको क्या, उनको हमारा ध्यान है।
गुरु है अपने देवता, श्रीभगवान है।
प्राण का पंछी, बसेरा पा गया॥

गुरु नहीं है व्यक्ति, वह एक एक शक्ति है।
मानें यदि आज्ञा तो, सच्ची भक्ति है।
धन्य है जिसको, कि यह पथ भा गया॥

गुरु सनातन, ब्रह्म का ही रूप है।
उसकी करुण कृपा, अमित अनूप है।
किया समर्पण तो,शिष्य सब पा गया॥

मुक्तक :-
गुरु संरक्षण पाया जिसने, अभय हो गया।
मंगलमय जीवन का उसके, उदय हो गया।।
जिसने सौंप दिया अपने को, गुरु चरणों में।
उस पर स्वर्गिक वैभव सारा, सदय हो गया।।


Comments

Post your comment
ARVIND NEMA
2012-05-05 13:00:42
गुरुदेव के चरणोँ मेँ स्वर्ग है
Info
Song Visits: 2951
Song Plays: 5
Song Downloaded : 0
Song
Duration : 9:53