Aao Hil Mil Holi
Pragya Geet Mala - All Songs

आओ हिलमिल होली
आओ हिलमिल होली खेलो रे, भर प्रेम-भाव का रंग।
भर प्रेम-भाव का रंग, भर आत्मभाव का रंग॥

स्नेह और ममता के जल में, रंग ममता का घोल।
प्रेमभाव का रंग बरसाएँ, मीठी वाणी बोल॥
कीचड़, गोबर पोत मुखों पर, करें नही हुड़दंग॥

श्रम की चलो गुलाल उड़ाएँ, सबके मुख पर लाली।
नाच उठे खुशियों से, श्रमिकों की टोली मतवाली॥
स्नेह और सहयोग करें सब, सबमें एक तरंग॥

गहरा रंग चढ़े सब पर ही, ऐसा युग निर्माणी।
दोष, दुर्गुणों, दुष्प्रवृत्तियों की, हो खत्म कहानी॥
नवयुग की होली सब खेलें, सद्भावों के संग॥


Comments

Post your comment
Info
Song Visits: 2032
Song Plays: 6
Song Downloaded : 0
Song
Duration : 5:46