Hamen Bhakti Do Maa
Pragya Geet Mala - All Songs

हमें भक्ति दो माँ
हमें भक्ति दो माँ, हमें शक्ति दो माँ,
सतत् साधना की, तपन माँगते हैं।
न धन-धाम कुछ, आपसे माँगते माँ,
विमल ज्ञान की, एक किरण माँगते हैं॥
हृदय भावना से, प्यार से भरें हों,
लगे दीन की पीर, बनकर छलकने।
द्रवित हो उठे, बाँटने दीन का दु:ख,
लगे अश्रु बनकर, नयन में मचलने॥
नहीं कामना, वासना चाहिए माँ,
सतत् साधना का, वरण माँगते हैं॥
नहीं स्वर्ग की, सिद्धि की कामना माँ!
नहीं मुक्ति की, कर रहे याचना है।
नहीं पद प्रतिष्ठा, न यश चाहिए माँ!
नहीं स्वर्ग की, कर रहे कामना है॥
अहं को गलाकर, करें प्रेम शिव को,
विमल भक्ति का, वर गहन माँगते हैं॥
तुम्हीं वेदमाता, तुम्हीं देवमाता,
तुम्हीं विश्वमाता, तुम्हीं भगवती हो,
पतन-पाप से मुक्त, करने तुम्हीं तो,
पतित-पावनी हो, भागीरथी हो॥
न वरदान अनुदान, कुछ चाहिए माँ!
तुम्हारे चरण में, शरण माँगते हैं॥
चलें लोक मंगल, पथ पर सदा ही,
करें लोक सेवा, निष्काम होकर।
जुटें युग सृजन में, समय श्रम लगाकर,
सृजन-चेतना का, प्रखर-प्राण लेकर॥
महाकाल के, काम में हों समर्पित।
इसी हेतु जीवन, मरण माँगते हैं॥
मुक्तक :-
माँ हमें वह भक्ति दो, संवेदना से छलछलाएँ।
माँ हमें वह शक्ति दो, हर अनीति से जूझ जाएँ।।
स्वार्थ से रह दूर माँ, सर्वार्थ में जीवन लगा दें।
पतन पीड़ा को मिटाकर, नव सृजन के काम आयें।।
Disciples want bhakti from mata.They argue about bhakti,they humbly request about bhakti from mother.


Comments

Post your comment
ketan thanki
2013-09-29 16:03:25
Bahut hi sundar pragya geet hain.. Kya aap hame aise praguageet email pe send kar sakte ho...
Rashmi Sharma
2013-02-25 22:23:05
very very nice song
Info
Song Visits: 3611
Song Plays: 5
Song Downloaded : 0
Song
Duration : 6:38