Aisi Jyoti Jaga
Pragya Geet Mala - All Songs

ऐसी ज्योति जगा जगदम्बे

ऐसी ज्योति जगा जगदम्बे, जीवन पथ चल पायें हम।
मन ढ्ढङ्घद्घ तिमिर मिटा दे अम्बे, छवि तेरी लख पायें हम॥

सूरज तेरी ज्योति जगाये, चाँद उतारे आरती।
दीप ऊद्घलाये अनगिन तारे, माँग सँवारे भारती।
महिमा अपरम्पार तुम्हारी, किन शब्दों में गायेड्ड हम॥

ना जाने हम अर्चन-वन्दन, ना पूजा आराधना।
मंत्र न जानें तंत्र न जानें, ना सेवा ना साधना।
केवल नाम पुकारे अम्बे, और न कुछ ढ्ढङ्घस्ङ्ग पायें हम॥

तू अनन्त सागर हम तेरी, एक छोटी सी बूँद हैं।
राह न सूझे मंजिल ढूद्धढ़े, हम सेवक बेसूझ हैं।
बड़ी कठिन है डगर तुम्हारी, स्रष्ट्वद्घस्द्वेङ्ग उठें बढ़ जायें हम॥
How to proceed on a path of perfection in life for that devotee humble request towards mata.


Comments

Post your comment
abhinay kumar patwa
2014-09-06 17:19:51
nice song
paras nath tiwary
2014-08-14 17:45:43
It teaches me to proceed on a path of perfection.
shubham tripathi
2014-02-03 12:35:48
I like this song....
Info
Song Visits: 4766
Song Plays: 0
Song Downloaded : 0
Song
Duration : 6:38